Monday, April 12, 2010

गन्दगी

माना की गन्दगी बहुत गन्दी होती है
साथ अपने बहुत गन्दगी लाती है
मगर हे कलयुग के गांधारी
इतना तो साहस तुम भी कर सकते हो
मिल कर गन्दगी को रास्ता दिखा सकते हो
या फिर नियति बना ली है तुमने
आँख मुंड कर इसके पास खड़े होने की
तथा इंतजार एक शानदार वाहन की
जो आपके कतिथ स्वेत बस्त्रो पर
छाप कर अपनी गंदगी बढ जाए आगे
और आप पीछे से
भाग्य तथा वाहन को कोसते
अपने मे समेटे उस गंदगी को घर ले जाये






No comments:

Post a Comment